अचीव 

एनीथिंग 

प्रोग्राम

‘अचीव एनीथिंग प्रोग्राम’ दुनिया की सबसे कम उम्र की नोबेल शांति पुरस्कार विजेता और Malala Fund की सह-संस्थापक, Malala Yousafzai को श्रवण में हानि से पीड़ित बच्चों और युवाओं को उपलब्धि की अपनी व्यक्तिगत कहानियों को साझा करने के लिए प्रेरित करेगा। 

 

कहानियों में दुनिया बदलने की शक्ति है, और हमें उम्मीद है कि इस कार्यक्रम में मलाला की भागीदारी श्रवण-हानि को शिक्षा और जीवन के अवसरों में बाधा के रूप में दूर करने के लिए कार्य करने के लिए लोगों को प्रेरित करने में मदद करेगी।

‘अचीव एनीथिंग प्रोग्राम’ श्रवण में हानि से पीड़ित बच्चों और युवाओं के वास्तविक जगत के अनुभवों पर भी प्रकाश डालेगा और श्रवण संबंधी स्वास्थ्य देखभाल और समर्थन में शीघ्र ऐक्सेस के महत्त्व को दिखाएगा।

अचीव एनीथिंग: 

प्रेरक कहानियाँ

हम आपसे या आपके बच्चे से सुनना चाहते हैं यदि आप श्रवण में हानि (बहरेपन) से पीड़ित हैं, स्कूली उम्र (5-25 वर्ष) के हैं और आपके पास उपलब्धि की एक प्रेरक व्यक्तिगत कहानी है, चाहे वह कितनी भी बड़ी या छोटी क्यों न हो। सितंबर 2021 से शुरू करके 12 महीनों के लिए, दुनिया भर से श्रवण में हानि से पीड़ित युवाओं की हम कहानियाँ जमा कर रहे हैं।

अपनी कहानी क्यों साझा करें?

आपकी कहानियों में दुनिया को बदलने की शक्ति है। आपकी व्यक्तिगत उपलब्धियों और उन सभी संभावित बाधाओं को जिन्हें आपने अपने पूरे जीवन में पार किया है, की कहानी अन्य युवाओं को उनकी पूरी क्षमता का बोध कराने के लिए प्रेरित और सहायता कर सकती है। आपकी कहानी एक गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के समान अधिकार और सुनने संबंधी स्वास्थ्य देखभाल और समर्थन तक शीघ्र ऐक्सेस के महत्त्व को बढ़ावा देने में मदद करेगी और आपको अपनी उपलब्धियों को साझा करने के लिए पहचाना जाएगा। बदलाव के समर्थक बनें - आज ही अपनी कहानी हमें बताइए।
 

*Malala Fund, Malin Fezehai के सौजन्य से हेडर छवि।
 


आपकी प्रस्तुति

अपनी कहानी साझा करने के लिए धन्यवाद।

अपने पसंदीदा सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर इसे पोस्ट करके दूसरों को अपनी व्यक्तिगत उपलब्धि की कहानी साझा करने के लिए प्रेरित करने में सहायक बनें। अपनी पोस्ट में आपको अपनी श्रवण संबंधी हानि की यात्रा, और कैसे सुनने संबंधी स्वास्थ्य देखभाल और समर्थन तक शीघ्र ऐक्सेस से आपको शिक्षा प्राप्त करने या जीवन भर आगे बढ़ने में सहायता मिली, के बारे में जानकारी साझा करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। अपनी पोस्ट को अपने नेटवर्क से बाहर के लोगों द्वारा देखे जाने में मदद के लिए निम्न हैशटैग का इस्तेमाल करें: #MalalaFund #CochlearFoundation #MalalaYousafzai #Cochlear #AchieveAnythingProgram

अपनी कहानी साझा करने के लिए धन्यवाद।

अपने पसंदीदा सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर इसे पोस्ट करके दूसरों को अपनी व्यक्तिगत उपलब्धि की कहानी साझा करने के लिए प्रेरित करने में सहायक बनें। अपनी पोस्ट में आपको अपनी श्रवण संबंधी हानि की यात्रा, और कैसे सुनने संबंधी स्वास्थ्य देखभाल और समर्थन तक शीघ्र ऐक्सेस से आपको शिक्षा प्राप्त करने या जीवन भर आगे बढ़ने में सहायता मिली, के बारे में जानकारी साझा करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। अपनी पोस्ट को अपने नेटवर्क से बाहर के लोगों द्वारा देखे जाने में मदद के लिए निम्न हैशटैग का इस्तेमाल करें: #MalalaFund #CochlearFoundation #MalalaYousafzai #Cochlear #AchieveAnythingProgram

प्रोग्राम पार्टनर्स

Selection Criteria

Stories will be chosen using selection criteria that support our objective – to remove hearing loss as a barrier to education and life's opportunities.